How To Abort Pregnancy Of 2 Weeks In Hindi : इस्तेमाल का तरीका, फायदे और नुकसान (Tuesday, 27 December 2022)

How To Abort Pregnancy Of 2 Weeks In Hindi, pregnancy week by week, pregnancy in hindi, medical abortion, abortion causes

दोस्तों, आज के समय में लड़कियों के लिए सबसे ज्यादा कठिन समय तब आता है जब वह बिना चाहे ही गर्भवती हो जाती है, इसके पीछे के कई सारे कारण हो सकते है जिसकी वजह से ऐसा होता है किंतु ऐसे में लड़कियों बहुत ज्यादा परेशान होकर गलत फैसला ले लेती है।

इसी वजह से अगर किसी के साथ ऐसा हुआ है और वह महिला गर्भवती नही होना चाहती है या अभी वह किसी शिशु का पालन नहीं कर सकती है तो उसको ज्यादा परेशान होने की जरूरत नही है क्योंकि आज के समय में बहुत सी मेडिसिन है जो की जिसके जरिए आप अपनी प्रेगनेंसी से बच सकती है।

अगर आपको भी गर्भावस्था के 2 हफ्ते या कुछ समय के बाद पता चला है की आप गर्भवती है और आपको अपनी गर्भावस्था से बचना है तब आप के मन में भी कई सारे सवाल आ रहे होंगे।

आपके इन सभी सवालों के जवाब और साथ में How To Abort Pregnancy Of 2 Weeks In Hindi के बारे में भी जानना चाहती है तो आज हम आपको अपने लेख की सहायता से आपके सभी सवालों के जबाव दे दूंगा।

Contents

How To Abort Pregnancy Of 2 Weeks In Hindi

कई बार और कई सारी महिलाओ के साथ ऐसा होता है की वह अनचाही प्रेगनेंसी से परेशान हो जाती है जिस कारण से वह काफी परेशान रहती है और कुछ महिलाएं गर्भपात के बारे में सोचती है और ऐसे में यह तरीका अच्छा भी रहता है लेकिन जब तब इसकी पूरी जानकारी न हो तब तक यह गर्भवती महिला के लिए घातक हो सकता है।

कई बार ऐसा होता है की पीरियड्स मिस होने के तुरंत बाद जब आप प्रेगनेंसी की जांच करती है तब आपको गर्भावस्था का परिणाम नही दिखता है और गायनोकॉलजिस्ट ऐंड लेप्रोस्कोपिक सर्जन, डॉक्‍टर सोनिया चावला का मानना है की अगर कोई महिला गर्भवती है और उसको अपनी गर्भावस्था की जांच शुरुवात के 1 या 2 हफ्ते में ही करानी है,

तब उसको उसकी गर्भावस्था की जांच का अंदाजा नहीं लगेगा क्योंकि गर्भावस्था के 3 हफ्ते के बाद ही गर्भावस्था के सही परिणाम का पता चलता है, किंतु अगर कोई महिला गर्भवती है तो उसको गर्भावस्था के कुछ लक्षण देखने को मिल सकते है जिससे उनको यह अंदाजा लग जाता है की वह गर्भवती है या नही।

Kab Abortion Karana Chahiye : कब एबॉर्शन करना चाहिए

जैसा की डॉक्टर सोनिया जी का मानना है की अगर कोई महिला गर्भवती है और उसको गर्भपात कराना है तब उसके लिए यह सही रहेगा की वह 1 महीने के बाद ही अपना गर्भपात कराए क्योंकि गर्भावस्था का पता दूसरे या तीसरे हफ्ते में नही चलता है। और अगर कोई महिला 24 हफ्ते से गर्भवती है और वह 24 हफ्ते के बाद अपना गर्भपात कराना चाहती है तब यह कारण असुरक्षित होता है और ऐसे में गर्भपात नही कराना चाहिए।

24वें हफ्ते के बाद क्या करना चाहिए

अगर कोई महिला 24वे हफ्ते से गर्भवती है तो उसके बाद गर्भपात कराने की अनुमति कानून भी नही देती है और यह ऐसे में गर्भपात कराना असुरक्षित भी होता है, हालांकि कुछ समय पहले दिल्ली हाई कोर्ट ने एक महिला को 28वे हफ्ते में गर्भपात कराने की अनुमति दी है इसकी वजह यह है की उस महिला के गर्भावस्था का कारण हार्टडिसीज थी।

How To Abort Pregnancy Of 2 Weeks In Hindi

अगर आपको अबॉर्शन कराना है तब आपको बता दे की BMC Women’s Health के लेख में एक शोध से यह जानकारी दी है की अबॉर्शन के लिए सबसे ठीक दवाई मिफेप्रिस्‍टोन है किंतु यह भी बताया जाता है की प्रेगनेंसी अबॉर्शन कराने से पहले महिला को किसी अच्छे गायनेकोलॉजिस्‍ट से मिलना चाहिए और उसकी राय पर ही अपना अगला कदम उठाना चाहिए।

Leave a Comment